Tag Archive : My Favourite Village -Jourwarpura

My Favourite Village -Jourwarpura

दोस्तों आज हम जाने वाले हैं जोरावरपुरा गांव के अंदर वहां पर जाने पर हम उसकी प्राचीन काल से जुड़ी गाथाओं के बारे में आवागमन करेंगे और इसके साथ ही इसकी प्राकृतिक सौंदर्य है इसकी प्रसिद्ध कलाकृति इसकी सुंदरता वातावरण अति के बारे में हम इस पोस्ट में चर्चा करने वाले हैं तो चलिए चलते हैं जोरावरपुरा गांव

Shiv templete biggest temple

जोरावरपुरा गांव का सबसे प्रसिद्ध मंदिर शिव मंदिर है कहा जाता है कि यह शिव मंदिर बहुत ही प्राचीन मंदिर है कई सालों से इस मंदिर का निर्माण हो चुका है। जोरावरपुरा गांव में रहने वाले सभी लोग शिव भगवान की सच्चे मन से पूजा करते हैं और बहुत दूर-दूर से लोग इस मंदिर में दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर लगभग 4 से 5 एकड़ में फैला हुआ है। इस मंदिर के साथ ही गौशाला भी है जहां पर की बेसहारा गाय निवास करती है इसके साथ ही वहां पर उन्हें खाना पानी दिया जाता है। जरा पड़ा काम में बहुत सारे मंदिर हमें देखने को मिले हैं उनमें से सबसे बड़ा मंदिर भगवान शिव का है इसके साथ ही हमें यहां पर हनुमान जी का मंदिर बबूता जी का मंदिर कुंवर जी का मंदिरअधिक देखने को मिले हैं तथा हमने उनका भ्रमण भी किया है और उनके दर्शन भी किया है।

Shri Krishn goshala

श्री कृष्ण गौशाला चौराहा की सबसे प्रसिद्ध में सबसे बड़ी गौशाला है इसको सावला की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि गांव के सभी लोग इस गौशाला को चलाने में अपना सहयोग देते हैं तथा समय-समय पर हर जरूरी सामान गायब हो तक पहुंचाते हैं। तथा सभी घर आऊंगा से तहे दिल से गायों की सेवा करते हैं गौशाला का संचालन सभी ग्रामवासी मिलकर करते हैं इसको साला में नियमित रूप से साफ सफाई पर बहुत जोड़ दिया गया है यहां पर आपको स्पाई बहुत अच्छी देखने को मिलेगी इसके साथ ही यहां पर गायों को पोषाहार भी बहुत अच्छा दिया जाता है तथा उनके रहने आदि की व्यवस्था भी बहुत अच्छी की गई है। इसके साथ ही एक और गौशाला है परंतु मैं शिव मंदिर के अंदर ही है वहां पर भी गायों को बहुत अच्छी तरह से रखा जाता है।

Government school and play ground

इसके साथ ही हम गवर्नमेंट स्कूल में भी गए जोरावरपुरा गांव का गवर्नमेंट स्कूल लगभग 8 एकड़ में फैला हुआ है यह गवर्नमेंट स्कूल 12वीं तक है तथा गांव के विद्यार्थी इसी स्कूल में ध्यान करने आते हैं। इस goverment school में लगभग 12 कमरे बने हुए हैं जिसमें विद्यार्थी बैठकर अध्ययन करते हैं। इसके साथ ही गवर्नमेंट स्कूल में बहुत सारे पेड़ पौधे भी लगे हुए हैं चौकी वातावरण को शुद्ध करने में अपना पूरा सहयोग करते हैं। गवर्नमेंट स्कूल के अंदर ही खेलने के लिए प्लेग्राउंड बनाया गया है जहां पर शाम को बहुत से खिलाड़ी खेल खेलते हैं। इसके साथ ही गोरमेंट स्कूल में विद्यार्थियों को हर्ष विद्या प्रदान की जाती है जिन्हें होगी उन्हें आवश्यकता है।

Largest nursery in this village

इस गांव के सबसे खास बात यह है कि इसमें लगभग 4 एकड़ में फैली हुई नर्सरी है जिसमें की बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हैं जो कि इस गांव को शुद्ध शुद्ध रखने में अपना पूरा सहयोग करते हैं। इसके साथ ही यह गांव सूरतगढ़ नहर के किनारे बसा हुआ है जिससे कि पीने की समस्या इस गांव में कभी नहीं होती है इस गांव से बाहर जाने और अंदर आने के लिए नहर पर एक पुल बनाया गया है जिस का यूज करके हर व्यक्ति गांव से पार जा सकता है और आ सकता है।

Many store available

इस गांव में आपको बहुत सारी दुकानें देखने को मिल जाएगी जो कि हमारी दैनिक जीवन में उपयोगी सामान की होती है। यहां पर आपको हर प्रकार की दुकानें देखने को मिल जाएगी इसके साथ ही यहां पर 5 से 6 डॉक्टर डॉक्टर भी आपको देखने को मिल जाएंगे जो कि गांव के व्यक्तियों का इलाज करते हैं और उन्हें सुविधा पहुंचाते हैं। इस गांव में रहने वाले लगभग सभी व्यक्ति किसान हैं वह खेती बड़ी करके ही अपना घर चलाते हैं तथा कुछ लोग अपना प्राइवेट बिजनेस पे करते हैं और कुछ लोग गवर्नमेंट जॉब्स में भी लगे हुए हैं। इसके साथ ही इस गांव में चिकित्सालय भी उपलब्ध है जोकि लोगों को स्वस्थ रखने में अपना पूरा सहयोग करता है इसके साथ ही यहां पर आपको पशु चिकित्सालय देखने को भी मिल जाएगा जहां पर पशुओं का इलाज किया जाता है तो दोस्तों आपको यह गांव कैसा लगा कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं